SHARE  

 
jquery lightbox div contentby VisualLightBox.com v6.1
 
     
             
   

 

 

 

421. उदासी संत कृपाल जी ने किस शस्त्र से युद्ध लड़ा था ?

  • धान पीटने वाले सोटे से

422. उदासी संत कृपाल जी ने किसे परास्त किया था ?

  • हैयातखाँ को

423. श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी के मामा का क्या नाम था, जिन्होंने भँगाणी के युद्ध में भाग लिया था ?

  • कृपालचन्द जी

424. भँगाणी के युद्ध में ऐसी कौनसी घटनाऐं घटित हुईं, जो पठानों और पवर्तीय राजाओं को चकित कर देने वाली थीं ?

  • 1. गुरू जी के वीरता भरे जोश का ये प्रभाव था कि ब्राहम्ण दयाराम भी शूरवीर बन गया था।

  • 2. चरवाहे भी युद्ध करने में अगुआ बन गये थे।

  • 3. एक साधू ने मुख्य पठान को मार गिराया था।

  • 4. एक लालचन्द नामक हलवाई ने भी अमीर खाँ नामक पठान को मार गिराया था।

425. सँगोशाह जो कि भँगाणी के युद्ध में वीरगति को प्राप्त हुआ, उसे गुरू जी ने क्या नाम दिया ?

  • शाह सँग्राम

426. भँगाणी के युद्ध में किसने श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी पर तीन तीर चलाये और तीनों तीरों से गुरू जी का कुछ नहीं बिगड़ा। फिर गुरू जी ने एक तीर मारा, जिससे उसकी मृत्यु हो गई ?

  • हरिचन्द

427. भँगाणी के युद्ध में पीर बुद्धु शाह के कितने पुत्र शहीद हुये थे ?

  • 2 पुत्र

428. भँगाणी के युद्ध में किसकी जीत हुई ?

  • श्री गुरू गोबिन्द सिंघ साहिब जी की

429. साहिबजादा अजीत सिंघ जी का नाम अजीत सिंघ कैसे पड़ा ?

  • भँगाणी में मिली जीत पर

430. भँगाणी के युद्ध में हार होने पर राजा भीमचन्द ने श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी के पास क्या प्रस्ताव भेजा ?

  • मैत्री प्रस्ताव

431. होली के त्योहार को "हौला-मौहल्ला" नाम किसने दिया ?

  • श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी

432. भाई नन्दलाल जी "गोया" कौन थे ?

  • भाई नन्दलाल जी फारसी भाषा के बहुत बड़े विद्वान थे।

433. भाई नन्दलाल जी श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी की शरण कैसे आये ?

  • वो हिन्दु थे, जब उन्हें ज्ञात हुआ कि औरँगजेब उन्हें इस्लाम स्वीकार करवाना चाहता है, तो वो गुरू जी की शरण में आ गये।

434. भाई नन्दलाल जी ने श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी की शरण में क्याक्या कार्य किये ?

  • 1. आपने गुरमति सिद्धान्तों की व्याख्या करने वाली कई पुस्तकों की रचना की।

  • 2. गुरू जी की स्तुति में उच्च स्तर की कविताऐं लिखीं, जो गुरूद्वारों में कीर्तन के रूप में गाई जाती हैं ?

435. भाई गुरदास जी के बाद वह कौन है, जिनकी रचना कीर्तन रूप में गाई जाती है ?

  • भाई नन्दलाल जी

436. भाई नन्दलाल जी "गोया" जी द्वारा रचित कितनी पुस्तकें है ?

  • 10

437. भाई नन्दलाल जी "गोया" जी द्वारा रचित पुस्तकें किन भाषाओं में हैं ?

  • 7 फारसी में

  • 3 पँजाबी में

438. भाई नन्दलाल जी "गोया" जी द्वारा रचित पुस्तकें के नाम क्या हैं ?

  • पँजाबी की पुस्तकें :
    1. जोगविगास
    2. रहितनामा
    3. तनखाहनामा

  • फारसी की पुस्तकें :
    1. जिंदगी नामा
    2. दीवानी गोया
    3. तौसीफे-उ-सना
    4. गँजनामा
    5. जोत विगास
    6. दस्तुरूल-इनासा
    7. अरजुल-अलफाज

439. श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी ने लँगरों की किस प्रकार से परीक्षा ली ?

  • गुरू जी रात में किसान की वेशभूषा बनाकर सभी धनी व्यक्तियों के लँगरों में गये, किन्तु सभी ने लँगर ना छकाकर यह कह दिया कि लँगर खत्म हो गया है, केवल भाई नन्दलाल जी ने तुरन्त तैयार करके खिलाया तो समस्त लँगरों में भाई नन्दलाल जी के लँगर को उत्तम घोषित किया गया।

440. श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी के कवि दरबार में कितने कवि थे ?

  • 52

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
     
     
            SHARE  
          
 
     
 

 

     

 

This Web Site Material Use Only Gurbaani Parchaar & Parsaar & This Web Site is Advertistment Free Web Site, So Please Don,t Contact me For Add.