SHARE  

 
jquery lightbox div contentby VisualLightBox.com v6.1
 
     
             
   

 

 

 

1. वर्तमान में सिक्खों के गुरू कौन हैं ?

  • श्री गुरू ग्रन्थ साहिब जी

2. चार साहिबजादे कौन थे ?

  • श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी के पुत्र

3. चार साहिबजादों के नाम क्या थे ?

  1. बाबा अजीत सिंह जी

  2. बाबा जुझार सिंह जी

  3. बाबा जोरावर सिंह जी

  4. बाबा फतेह सिहं जी

4. बाबा अजीत सिंह जी का समयकाल क्या था ?

  • सन 1687 से सन 1705 तक

5. बाबा जुझार सिंह जी का समयकाल क्या था ?

  • सन 1689 से सन 1705 तक

6. बाबा जोरावर सिंह जी का समयकाल क्या था ?

  • सन 1696 से सन 1705 तक

7. बाबा फतेह सिंह जी का समयकाल क्या था ?

  • सन 1698 से सन 1705 तक

8. सबसे बड़े साहिबजादे का क्या नाम था ?

  • बाबा अजीत सिंह जी

9. सबसे छोटे साहिबजादे का क्या नाम था ?

  • बाबा फतेह सिहं जी

10. जिन्हें दीवार में चिनवाया गया उन साहिबजादों के नाम क्या थे ?

  1. बाबा फतेह सिंह जी

  2. बाबा जोरावर सिहं जी

11. जो चमकौर के युद्व में शहीद हुए उन साहिबजादों के नाम क्या थे ?

  1. बाबा अजीत सिंह जी

  2. बाबा जुझार सिंह जी

12. खालसा पँथ की स्थापना किसने की ?

  • दसवें गुरू, साहिब श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी ने

13. खालसा पँथ की स्थापना कब हुई ?

  • वैखाखी वाले दिन 30 मार्च सन 1699 को हुई।

14. खालसा पँथ की स्थापना किस स्थान पर हुई ?

  • श्री केशगढ़ साहिब, जिसे आनन्दपुर साहिब भी कहते हैं

14. (1) सँसार का सबसे महँगा अन्तिम सँस्कार कौनसा है ?

  • माता गुजरी और साहिबजादों का अन्तिम सँस्कार, सोने की मोहरें खड़ी करके (जितनी जमीन पर सँस्कार होना था, उतने स्थान पर सोने की मोहरें खड़ी करके)।

14. (2) साहिबजादे जोरावर सिंघ जी, साहिबजादे फतेह सिंघ जी को कब दीवारों में चिनवाकर शहीद किया गया था ?

  • 26 दिसम्बर (13 पौह, पौष) 1705

14. (3) माता गुजरी जी के शरीर त्यागने पर, जालिमों ने पवित्र शरीरों को (माता जी और साहिबजादों के) श्री फतेहगढ़ साहिब के पीछे बहती हँसला नदी के किनारे जँगल में फैंक दिया। जिसमें भयानक आदमखोर जानवर रहते थे। इन जानवरों से शरीरों की रक्षा किसने की ?

  • एक बब्बर शेर ने 48 घण्टे तक

14. (4) सिक्ख इतिहास का सबसे पहला सरोवर कौन सा है ?

  • गुरूद्वारा श्री टाहली (सँतोखसर) साहिब जी हाल गेट के पास, जिला श्री अमृतसर साहिब जी

14. (5) सिक्ख इतिहास में गुरूद्वारों का सबसे बड़ा सरोवर कौन सा है ?

  • श्री दरबार साहिब, तरनतारन साहिब जी

14. (6) दमदमी टकसाल के प्रचारकों अनुसार किसका एक दिन में 101 श्री जपुजी के पाठ करने का नितनेम था ?

  • बाबा दीप सिंघ जी

14. (7) किसने श्री गुरू ग्रन्थ साहिब जी का एक स्वरूप अरबी भाषा में लिखकर अरब देश में भेजा ताकि अरबी लोग भी श्री गुरू ग्रन्थ साहिब की की बाणी से जुड़ सकें। वो स्वरूप आज भी अरब देश की बरकले युनिवरसिटी में सुशोभित है।

  • बाबा दीप सिंघ जी

14. (8) पँजाबी का सबसे पहला कायदा अपने हाथों से किसने लिखा था ?

  • दुसरे गुरू, श्री गुरू अंगद देव जी ने

14. (9) श्री गुरू नानक देव जी की भाई बाला जी वाली जन्मसाखी दुसरे गुरू, श्री गुरू अंगद देव जी ने किससे लिखवाई थी ?

  • भाई पैड़ा मोखा जी से

14. (10) श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी ने श्री चौपाई साहिब जी की बाणी का उचारण किस पवित्र स्थान पर किया था ?

  • गुरूद्वारा श्री बिभोर साहिब जी, नांगल सिटी, जिला रोपड़ पँजाब

14. (11) नौवें गुरू जी का पावन शीश चांदनी चौक दिल्ली से आनंदपुर साहिब पहुँचाकर, "रधुरेटे गुरू के बेटे" होने का मान किसने हासिल किया ?

  • भाई जैता जी (भाई जीवन सिंघ जी)

14. (12) श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी ने चमकौर की गढ़ी छोड़ने से पहले अपने हमशक्ल को कलगी सजाकर शस्त्र सौंप दिए। वो हमशक्ल कौन था ?

  • शिरोमणी बाबा जीवन सिंघ (भाई जैता) जी

14. (13) बाबा जीवन सिंघ (भाई जैता) जी ने बहादुरी से कितनी फौज का सामना किया और आप जी ने गुरू जी का कथन"सवा लाख से एक लड़ाऊं, तबैह गोबिन्द सिंघ नाम कहाऊँ", को असली रूप में साकार किया ?

  • 10 लाख फौज का सामना किया

14. (14) श्री आंनदपुर साहिब जी के पहले युद्ध में, जिसमें पहाड़ी राजाओं ने हाथी को शराब पिलाकर किले का दरवाजा तोड़ने के लिए भेजा था, उसका मुकाबला भाई मनी सिंह के सुपुत्रों ने किया था, उनका नाम क्या है ?

  • भाई बचित्र सिंघ जी और भाई उदै सिंघ जी

14. (15) श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी ने दमदमी बीड़ साहिब किस से लिखवाई ?

  • शहीद भाई मनी सिंघ जी

14. (16) भाई मनी सिंघ जी को किस प्रकार शहीद किया गया ?

  • उनका अंगअंग जुदा करके यानि बोटीबोटी काटकर।

14. (17) गुरूद्वारा श्री संन साहिब जी को चौरासी कट क्यों कहते हैं ?

  • क्योंकि श्री गुरू अमरदास जी ने वर दिया था कि, जो इस संन में से एक मन यानि सच्चे मन से निकल जायेगा, उसकी चौरासी कट जायेगी।

14. (18) गुरूद्वारा तखत श्री दमदमा साहिब वाले स्थान पर श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी ने सिक्खों का सिक्खी सिदक कैसे परखा ?

  • बन्दूक के निशाने से

14. (19) श्री गुरू ग्रन्थ साहिब जी की पावन पवित्र बीड़ कॉपी करवाकर, बाकी चार तखतों में किसने भेजी ?

  • बाबा दीप सिंघ जी

14. (20) श्री गुरू गोबिन्द सिंघ जी ने श्री गुरू ग्रन्थ साहिब जी की पावन पवित्र बीड़ को किस स्थान पर लिखवाया था ?

  • गुरूद्वारा श्री लिखानसर साहिब, तखत श्री दमदमा साहिब

15. गुरू गोबिन्द सिंह जी ने अमृतपान करवाकर जो नये सिक्ख बनाए, उन्हें क्या नाम दिया गया ?

  • खालसा पँथ

16. सबसे पहले बनाए गए पाँच प्यारों के क्या नाम थे ?

  1. भाई दया सिंह जी

  2. भाई धर्म सिंह जी

  3. भाई हिम्मत सिंह जी

  4. भाई मोहकम सिंह जी

  5. भाई साहिब सिंह जी

17. सबसे पहले अमृतपान करने वाला पाँच प्यारा कौन था ?

  • भाई दया सिंह जी

18. भाई दया सिंह जी का वास्तविक नाम क्या था ?

  • भाई दया राम जी

19. भाई दया सिंह जी की उम्र क्या थी, जब उन्होंने पाँच प्यारा बनकर अमृत पान किया था ?

  • 38 साल

20. भाई दया सिंह जी का जन्म कब और कहाँ हुआ था और वो कौन थे ?

  • इनका जन्म सन 1661 में, लाहौर में हुआ था और यह सोबती खत्री थे।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
     
     
            SHARE  
          
 
     
 

 

     

 

This Web Site Material Use Only Gurbaani Parchaar & Parsaar & This Web Site is Advertistment Free Web Site, So Please Don,t Contact me For Add.