SHARE  

 
jquery lightbox div contentby VisualLightBox.com v6.1
 
     
             
   

 

 

 

701. "नादिरशाह" के विषय में "सिक्खों" को मालूम हुआ तो वह श्री अमृतसर साहिब जी में एकत्रित हुए और उन्होंने आपस में परामर्श किया कि धन तो सभी लूटेरे ले जाते हैं, उसकी तो कोई बात नहीं, बात तो स्वाभिमान की है, सिक्खों के कहने का तात्पर्य क्या था ?

  • नादिरशाह हमारे देश की इज्जत अर्थात हमारी बहू-बेटियों को भेड़ बकरियों की तरह अफगानिस्तान ले जा रहा था।

702. सिक्खों ने "अति सुन्दर महिलाओं" को अपनी रणनीति से किस प्रकार नादिरशाह से सफलतापूर्वक छुड़वाकर दिखाया ?

  • छापामार युद्ध द्वारा

703. सिक्खों ने जिन अति सुन्दर महिलाओं को अपनी रणनीति से जिस प्रकार नादिरशाह से सफलतापूर्वक छुड़वाकर दिखाया, उन मलिलाओं की सँख्या कितनी थी ?

  • 2200

704. नादिरशाह को जब जकरिया खान ने सिक्खों के बारे में जानकारी दी, तब नादिरशाह क्या बोला ?

  • वह दिन दूर नहीं, जब ये लोग इस मुल्क देश के स्वामी बनेंगे, इसलिए तुम सत्तर्क हो जाओ, तुम्हारी सत्ता को हमेशा खतरा ही खतरा है।

705. जकरिया खान पर नादिरशाह की बात का क्या असर हुआ ?

  • उसने सिक्खों पर दमनचक्र शुरू कर दिया और हत्याएँ करनी प्रारम्भ कर दीं।

706. जकरिया खान के बाद कौन पँजाब के राज्यपाल पद पर नियुक्त हुआ ?

  • उसका बड़ा बेटा यहिया खान

707. जक्रिया खान के शासनकाल से ही लाहौर की प्रशासनिक व्यवस्था में किन दो हिन्दू भाईयों का बहुत प्रभाव था ?

  • दीवान लखपात राय और जसपत राय

708. लखपत राय कौन था ?

  • पँजाब प्रान्त का दीवान (कोषाध्यक्ष)

709. बड़ा भाई जसपत राय कौन था ?

  • ऐमनाबाद नगर का फौजदार (सैनिक प्रशासक)

710. दल खालसा और जसपत राय के बीच हुये युद्ध में जसपत राय का सिर काटने वाला सिक्ख कौन था ?

  • निबाहू सिंघ

711. जसपतराय की मौत की खबर से लखपतराय पर क्या असर हुआ ?

  • वो पँजाब के राज्यपाल यहिया खान के पास पहुँचा और सिक्खों के सर्वनाश का उत्तरदायित्व माँगा।

712. दीवान लखपत राय की सिक्खों के विरूद्ध क्या क्रूर नीति रही ?

  • एकएक सिक्ख के सिर के लिए इनाम निश्चित कर दिया।

  • श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी की मर्यादा अनुसार जीवन जाने वाले प्रत्येक सिक्ख का पेट चाक कर दिया जाए।

  • 1745 ईस्वी के मार्च माह के पहले सप्ताह में सर्वप्रथम लाहौर नगर के सिक्ख दुकानदारों तथा सरकारी कर्मचारियों को पकड़कर जल्लादों के हवाले कर दिया।

713. "छोटा घल्लूघारा" (विपत्तिकाल) क्या है ?

  • सिक्ख इतिहास में यह पहला अवसर था कि जब एक ही दिन में सिक्खों को इतनी भारी क्षति सहनी पड़ी। फलस्वरूप इस दिन को "घल्लूघारे" (घोर तबाही) का दिन पुकारा जाता है। यह पहला और "छोटा घल्लूघारा" था।

714. "छोटा घल्लूघारा" (विपत्तिकाल) में सिक्खों का युद्ध किससे हुआ था ?

  • लखपत राय की सेना के साथ जिसमें स्थानीय बसोहली, यशेल और कठूहे के लोगों द्वारा भी सिक्खों को हानि पहुँचाई गई।

715. "छोटा घल्लूघारा" (विपत्तिकाल) में कितने सिक्ख शहीद हुए ?

  • लगभग 7 हजार

716. "छोटा घल्लूघारा" (विपत्तिकाल) में कितने सिक्ख बन्दी बना लिये गये ?

  • लगभग 3 हजार

717. "छोटा घल्लूघारा" (विपत्तिकाल) में बन्दी बनाये गये 3 हजार सिक्खों के साथ क्या किया गया ?

  • लाहौर नगर के दिल्ली दरवाजे के बाहर बड़ी निर्दयतापूर्वक कत्ल कर दिये गये।

718. "छोटा घल्लूघारे" के अभियान से लौटकर बौखलाये लखपतराय ने सिक्खों के खिलाफ क्याक्या कार्य किये ?

  • 1. सिक्खों के गुरूद्वारों पर ताले डलवा दिये और कई एक तो गिरा भी दिये।

  • 2. कई पवित्र स्थानों पर उसने "श्री गुरू ग्रँथ साहिब जी" तथा अन्य धार्मिक पुस्तकों को अग्नि भेंट कर दिया अथवा कुँओं में फिँकवा दी।

  • 3. भविष्य में कोई भी व्यक्ति गुरबाणी का पाठ न करे

  • 4. कोई श्री गुरू नानक देव जी और श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी का नाम ले, ऐसा करने वालों का पेट फाड़ दिया जाएगा।

719. किसने यह यह घोषणा करवा दी कि एक खत्री ने सिक्ख पँथ की सृजना की थी और अब मुझ एक अन्य खत्री ने इसका सर्वनाश कर डाला है ?

  • दीवान लखपतराय

720. लखपत राय ने किस "शब्द" के प्रयोग करने पर पाबन्दी लगा दी, क्योंकि ध्वनि की समानता के कारण "गुरू" का स्मरण होने लग जाता है ?

  • "गुड़" शब्द

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
     
     
            SHARE  
          
 
     
 

 

     

 

This Web Site Material Use Only Gurbaani Parchaar & Parsaar & This Web Site is Advertistment Free Web Site, So Please Don,t Contact me For Add.